Asia Team Championship आज से, पीवी सिंधू की वापसी और सात्विक-चिराग की जोड़ी पर निगाहें

0
77
Asia Team Championship starting today, all eyes on comeback of pv sindhu, big hope from satvik-chirag duo, hs pranoy and lakshya sen

कुआलालम्पुर। Asia Team Championship: थॉमस कप चैंपियन भारत अपने खिलाडिय़ों के प्रदर्शन के बूते बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप (बीएटीसी) का खिताब जीतने की कोशिश करेगा। इसमें दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू की चोट से वापसी होगी। भारतीय पुरुष टीम ने 2022 में थॉमस कप जीता और पिछले साल के एशियाई खेलों में पहला रजत पदक हासिल किया था। टीम की कोशिश इस महाद्वीपीय प्रतियोगिता के फाइनल तक पहुंचने की होगी जिसमें उसने 2016 और 2018 में कांस्य पदक जीता था। सिंधू के लिए यह टूर्नामेंट ज्यादा अहमियत रखता है क्योंकि वह पिछले साल अक्तूबर से खेल से बाहर हैं जिससे वह अपनी मैच फिटनेस देखना चाहेंगी और जरूरी आत्मविश्वास हासिल करना चाहेंगी।

पहले नॉकआउट में पहुंचने का लक्ष्य

भारतीय पुरुष टीम को Asia Team Championship में ग्रुप ए के लीग मैच में मजबूत चीन और हांगकांग का सामना करना होगा। यह उसके लिए इतना आसान नहीं होगा। एचएस प्रणय की अगुआई में भारत लक्ष्य सेन तथा सात्विकसाईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की युगल जोड़ी के साथ शीर्ष दो में जगह बनाकर नॉकआउट चरण में जगह बनाने की कोशिश करेगा। सिंधू के नेतृत्व वाली महिला टीम को ग्रुप ‘डब्ल्यू’ में सिर्फ चीन से भिडऩा है जो ग्रुप की दूसरी टीम है जिससे भारत ने नॉकआउट में अपना स्थान सुनिश्चित कर लिया है।

IND vs ENG: केएल राहुल के बाहर होने से बिगड़े टीम इंडिया के समीकरण, सबसे बड़ा सवाल; किसका होगा डेब्यू?

महिला टीम के मुश्किल होने वाला है सफर

महिला टीम के लिए सफर मुश्किल भरा होगा। Asia Team Championship के लिए महिला टीम में सिंधू और दो युगल जोडिय़ां त्रिशा जॉली और गायत्री गोपीचंद तथा अश्विनी पोनप्पा और तनीषा क्रास्टो शामिल हैं। 28 साल की सिंधू को फ्रेंच ओपन में घुटने में चोट लग गई थी। फिटनेस हासिल करने के बाद वह बेंगलुरु में ‘मेंटोर’ प्रकाश पादुकोण के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग में जुटी थीं।

AUS vs WI: तीसरा टी20 आज, ऑस्ट्रेलिया क्लीन स्वीप को बेताब; वेस्टइंडीज को वापसी की आस

ओलंपिक के लिए मिलेंगे जरूरी क्वालिफिकेशन अंक

Asia Team Championship खिलाडिय़ों के लिए भी महत्वपूर्ण होगा क्योंकि इससे ‘रेस टूर द 2024 पेरिस ओलंपिक’ के लिए महत्वपूर्ण क्वालिफिकेशन अंक मिलेंगे। ध्यान युवा और दूसरे दर्जे के भारतीय खिलाडिय़ों पर भी लगा होगा जिसमें अस्मिता चालिहा, अनमोल खरब और तन्वी शर्मा शामिल हैं। भारत बुधवार से अपने अभियान की शुरुआत करेगा जिसमें पुरुष टीम का सामना हांगकांग से होगा जबकि सिंधू एंड कंपनी की भिड़ंत चीन से होगी जिसमें ओलंपिक चैंपियन चेन यु फेई अनुपस्थित होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here