Neeraj Chopra पेरिस ओलंपिक से पहले फार्म में लौटे, जीता गोल्ड

0
85
Neeraj Chopra Bags Gold Medal in Paavo Nurmi Games 2024 before Paris Olympics

नई दिल्ली। Neeraj Chopra: आगामी पेरिस ओलंपिक (Paris Olympics) में भारत के लिए गोल्ड मैडल की सबसे बड़ी उम्मीद जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा फार्म में आ गए हैं। फिन लैंड के टुर्कु में आयोजित पावो नूरमी गेम्स में नीरज ने गोल्ड मैडल अपने नाम किया। उन्होंने 85.97 मीटर के थ्रो के साथ पहला स्थान प्राप्त किया। फिनलैंड के टोनी केरानेन ने 84.19 मीटर के थ्रो के साथ दूसरे स्थान पर रहे और ओलिवियर हेलांडर ने 83.96 मीटर के अपने सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ बॉन्ज मेडल जीता है। इस प्रतियोगिता में नीरज दूसरे थ्रो में पिछड़ गए थे। लेकिन इसके बाद उन्होंने शानदार वापसी करते हुए गोल्ड अपने नाम किया।

अब पेरिस ओलंपिक का गोल्ड निशाने पर

पेरिस ओलंपिक 26 जुलाई से शुरू होने जा रहे हैं। इससे ठीक पहले Neeraj Chopra का यह शानदार प्रदर्शन भारतीय फैंस के लिए उम्मीद भरा है। नीरज को पिछले महीने प्रैक्टिस के दौरान मांसपेशियों में खिंचाव आ गया था। इस वजह से उन्होंने 28 मई को चेक गणराज्य में आयोजित ओस्ट्रावा गोल्डन स्पाइक टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया था। इसके बाद पेरिस में उनके प्रदर्शन को लेकर कयास लगने लगे थे। नीरज चोपड़ा ने इस बात की जानकारी देते हुए लिखा था, ’मुझे ये समस्या पहले भी रही है। इस स्टेज पर अगर मैं खुद को पुश करता हूं तो ये चोट में बदल सकती है। मैं साफ कर दे रहा हूं कि मैं चोटिल नहीं हूं, पर मैं ओलंपिक्स से पहले कोई खतरा नहीं लेना चाहता। जैसे ही मैं पूरी तरह से रिकवर हो जाऊंगा, मैं चैंपियनशिप में वापसी करूंगा। आपके सपोर्ट के लिए धन्यवाद।’

T20 World Cup में गड़बड़ी की कोशिश, केन्या के पूर्व खिलाड़ी पर आरोप

शुरूआती बढ़त के बाद पिछड़ गए थे नीरज

Neeraj Chopra सबसे पहले थ्रो करने आए और उन्होंने पहली ही बार में 83.62 मीटर का थ्रो किया। वे एंडरसन पीटर्स से आगे रहे, जिन्होंने पहली बार में 82.58 मीटर का थ्रो किया। दूसरे प्रयास में नीरज ने 83.45 मीटर का थ्रो किया लेकिन ओलिवियर ने दूसरे प्रयास में 83.96 मीटर का थ्रो किया था। इससे नीरज दूसरे स्थान पर खिसक गए थे।

तीसरी थ्रो में फिर आगे निकले

दूसरे प्रयास में पिछड़ने के बाद नीरज ने तीसरे प्रयास में शानदार वापसी की। उन्होंने 85.97 मीटर का थ्रो किया। नीरज का यह सर्वश्रेष्ठ थ्रो रहा। नीरज 8 भाला फेंक एथलीट में एकमात्र खिलाड़ी रहे जिन्होंने 85 मीटर के थ्रो को पार किया। वहीं, ओलिवियर अपने तीसरे प्रयास में 83 मीटर के पार भी नहीं जा सके और उन्होंने 82.60 मीटर का थ्रो किया। तीसरा प्रयास समाप्त होने के बाद नीरज ने अपनी बढ़त बनाए रखी। चौथे प्रयास में 82.21 मीटर का थ्रो किया। जबकि नीरज पांचवें प्रयास में फाउल कर बैठे, लेकिन राहत की बात यह रही कि इस प्रयास में भी कोई नीरज को पीछे नहीं छोड़ सका और पांचवें प्रयास की समाप्ति के बाद भी Tokyo Olympics के स्वर्ण पदक विजेता इस खिलाड़ी की बादशाहत बरकरार रही। छठे प्रयास में Neeraj Chopra ने 82.97 मीटर का थ्रो किया। दिलचस्प बात यह रही कि अंतिम प्रयास में नीरज और मैक्स डेहिंग ही सफल प्रयास कर सके, जबकि अन्य सभी खिलाड़ियों ने फाउल किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here