रेसलर Bajrang Punia ने नाडा पर लगाया बड़ा आरोप

0
146
Wrestler Bajrang Punia made big allegations against NADA

नई दिल्ली। Bajrang Punia : भारत के एशियन गोल्ड मैडलिस्ट रेसलर बजरंग पूनिया और राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (NADA) आमने-सामने आ गए हैं। नाडा ने डोप टेस्ट के नमूने नहीं देने पर गत 23 अप्रेल को पूनिया को निलंबित कर दिया था। वहीं अब पूनिया ने नाडा पर बड़ा आरोप जड़ दिया है। पूनिया का कहना है कि नाडा की खामियों को उजागर करने के कारण एजेंसी अब उनके करियर को खत्म करना चाहती है।

Wimbledon: अल्काराज- मेदवेदेव अगले दौर में, सबालेंका ने छोड़ा मैदान

दरअसल, इस विवाद की शुरूआत अप्रेल में हुई थी। जबकि नाडा ने 10 मार्च को सोनीपत में हुए चयन ट्रायल के दौरान डोप टेस्ट के लिए नमूने नहीं देने पर 23 अप्रैल को बजरंग को निलंबित कर दिया था। हालांकि डोपिंग रोधी अनुशासनात्मक पैनल (ADDP) से बजरंग को राहत मिल गई थी। एडीडीपी ने पहला निलंबन इस आधार पर हटा दिया था कि नाडा ने पहलवान को औपचारिक नोटिस देकर आधिकारिक तौर पर उस पर डोपिंग का आरोप नहीं लगाया था। इस पर नाडा ने उन्हें बकायदा नोटिस जारी किया और उन्हें फिर से निलंबित कर दिया। इस पर बजरंग पूनिया ने नाडा पर जानबूझकर कार्रवाई का आरोप जड़ दिया।

Dinesh Karthik की नई पारी शुरू, IPL में बनेंगे RCB के मेंटर और बैटिंग कोच

नमूना देने से नहीं किया इनकार

बजरंग पूनिया ने दावा किया कि उन्होंने कभी नमूना देने से इनकार नहीं किया, बल्कि केवल इस बात का जवाब मांगा था कि नाडा ने दिसंबर 2023 में नमूना संग्रह के लिए एक एक्सपायर हो चुकी किट क्यों भेजी थी। Bajrang Punia ने एक्स पर लिखा, यह दर्शाता है कि नाडा मुझे कैसे निशाना बना रहा है, वे नहीं चाहते कि मैं किसी भी कीमत पर कुश्ती जारी रखूं। उनके पास कोई जवाब नहीं है और वे अपनी गलतियों की जिम्मेदारी नहीं लेना चाहते, वे सिर्फ अपने छुटकारे के लिए एथलीट को परेशान करना चाहते हैं। नाडा नहीं चाहता कि कोई उनके गलत तरीकों पर सवाल उठाए और अगर कोई ऐसा करता है तो उसे निशाना बनाया जाता है ताकि वह अपना खेल जारी न रख सके।

IND W vs SA W : राणा की फिरकी में फंसी साउथ अफ्रीका, टीम इंडिया ने 10 विकेट से धोया

पहलवान अंत तक लड़ेगा

बजरंग ने कहा कि नाडा एक्सपायर हो चुकी किट के बारे में जवाब क्यों नहीं देता? नाडा इस बात का जवाब क्यों नहीं देता कि दो मैचों के बीच नमूना लेने के लिए मुझपर दबाव दिया गया, जबकि उन्हें पता था कि मेरे पास अगले मुकाबले की तैयारी करने के लिए केवल 20 मिनट थे। उन्होंने कहा कि इस मामले में वह हार नहीं मानेंगे। उन्होंने कहा, ’अगर नाडा अपने अहंकार के लिए पहलवानों के धैर्य और अपने अधिकारों के लिए खड़े होने के दृढ़ संकल्प को चुनौती देना चाहता है, तो उसे ऐसा करने दो। पहलवान यही है और अंत तक लड़ेगा। मेरे वकील समय पर अपना जवाब दाखिल करेंगे।’ Bajrang Punia को आरोप स्वीकार करने या सुनवाई का अनुरोध करने के लिए 11 जुलाई तक का समय दिया गया है।