WFI: अध्यक्ष समेत कुश्ती संघ सस्पेंड, बवाल के बाद खेल मंत्रालय का फैसला

0
73
Sports Ministry Suspends Newly Formed Wrestling Federation including president, Bajrang Punia, Sakshi Malik

नई दिल्ली। WFI: कुश्ती संघ के चुनावों में नया मोड़ आ गया है। महज 3 दिन पहले भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बने संजय सिंह सहित पूरी बॉडी को खेल मंत्रालय ने सस्पेंड कर दिया है। मंत्रालय के इस फैसले से भाजपा सांसद और पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह को करारा झटका लगा है। खेल मंत्रालय ने पिछले तीन दिनो में संघ द्वारा लिए गए फैसलों को भी निलंबित कर दिया है। सरकार के इस फैसले से बृजभूषण सिंह के खिलाफ मोर्चा खोले बैठे पहलवानों को बड़ी राहत मिली है।

दरअसल, 3 दिन पहले 21 दिसंबर को हुए चुनाव में भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह के करीबी संजय सिंह भारतीय कुश्ती संघ (WFI) के प्रेसिडेंट बने थे। इसके विरोध में ओलिंपिक मेडलिस्ट पहलवान साक्षी मलिक ने कुश्ती से संन्यास ले लिया था। जबकि स्टार रेसलर बजरंग पुनिया ने पद्मश्री लौटा दिया था।

Suryakumar Yadav : पैर में पट्टी बांधकर चलते दिखे सूर्या, शेयर किया वीडियो

पूर्व अध्यक्ष के करीबी के निर्वाचन से नाराज से पहलवान

WFI के चुनाव में संजय सिंह के अध्यक्ष चुने जाने से बृजभूषण के खिलाफ धरना देने वाले रेसलर नाखुश थे। दिल्ली में गुरुवार शाम को रेसलर बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान साक्षी मलिक भावुक हो गईं और कुश्ती छोड़ने का ऐलान कर दिया। उन्होंने अपने जूते उतारकर टेबल पर रख दिए और वहां से उठकर चली गईं। इसके अगले ही दिन बजरंग पूनिया ने अपना पद्म श्री अवॉर्ड लौटाने का ऐलान कर दिया।

गोंडा में चैंपियनशिप पर भी उठाए सवाल

संघ ने जूनियर नेशनल चैंपियनशिप की घोषणा की थी, जिसमें ये टूर्नामेंट 28 दिसंबर से यूपी के गोंडा में शुरू होना था। इसको लेकर भी रेसलिंग छोड़ चुकीं साक्षी मलिक ने सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा, ’मैंने कुश्ती छोड़ दी है पर कल रात से परेशान हूं, वे जूनियर महिला पहलवान क्या करें जो मुझे फोन करके बता रही हैं कि दीदी इस 28 तारीख से जूनियर नेशनल होने हैं और वो नई कुश्ती फेडरेशन ने नन्दनी नगर गोंडा में करवाने का फैसला लिया है।’ इसके बाद स्पोर्ट्स मिनिस्ट्री ने भारतीय कुश्ती महासंघ की नवनिर्वाचित संस्था को सस्पेंड कर दिया है।

IND vs SA : साउथ अफ्रीका में ये 5 खिलाड़ी होंगे भारत के लिए एक्स फैक्टर, जानिए सूची

बजरंग ने लौटाया पद्म श्री

संजय सिंह के अध्यक्ष बनने के बाद पहलवान बजरंग पूनिया ने 22 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सोशल मीडिया के जरिए चिट्‌ठी लिखकर पद्मश्री अवॉर्ड लौटाने का ऐलान किया। बजरंग पूनिया ने लिखा, ’मैं अपना पद्मश्री पुरस्कार प्रधानमंत्री जी को वापस लौटा रहा हूं। कहने के लिए बस मेरा यह पत्र है।’ इस चिट्‌ठी में बजरंग पूनिया ने भारतीय कुश्ती संघ (WFI) पर बृजभूषण के करीबी संजय सिंह की जीत का विरोध जताया। बजरंग अवॉर्ड लौटाने प्रधानमंत्री आवास पर गए थे, लेकिन अंदर जाने की परमिशन नहीं मिली तो उन्होंने अवॉर्ड वहीं फुटपाथ पर रख दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here