World Wrestling Championship: सेमीफाइनल में हारी अंतिम पंघाल, अब आज कांस्य के लिए होगा मुकाबला

0
182
World Wrestling Championship Antim Panghal loses in semis, to fight for bronze and Olympics quota

बेलग्रेड। World Wrestling Championship: भारत की 19 वर्षीय युवा महिला रेसलर अंतिम पंघाल ने सर्बिया के बेलग्रेड में जारी वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में बुधवार को कमाल को प्रदर्शन किया। भारतीय रेसलर ने एक के बाद एक तीन मुकाबले जीतकर सेमीफाइनल में एंट्री कर ली। खास बात यह रही कि क्वालिफिकेशन राउंड में अंतिम ने अंडर 20 की पूर्व चैंपियन को मात दी। इसके बाद वह पोलैंड और रूस की पहलवानों को हराकर अंतिम 4 में पहुंची। लेकिन सेमीफाइनल में उन्हें दो बार की वर्ल्ड चैंपियन बेलारूस की वनेसा कलाडजिन्सकाया ने 4-5 से मात दी। अब वह ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में गुरुवार को यानी आज उतरेंगी।

Asian Games: आज महिला क्रिकेट टीम मलेशिया के खिलाफ करेगी अभियान की शुरूआत, हरमनप्रीत की गैरमौजूदगी में मंधाना को कमान

शानदार रहा सेमीफाइनल तक का सफर

भारत की युवा पहलवान अंतिम पंघाल ने World Wrestling Championship में सेमीफाइनल तक का सफर एक ही दिन में तय कर लिया। उन्होंने अमेरिका की मौजूदा विश्व चैंपियन ओलिविया डोमिनिक पैरिश को हराकर पेरिस ओलंपिक कोटा हासिल करने की उम्मीद जगाई। पंघाल महिला 53 किलोग्राम वर्ग के क्वालीफिकेशन दौर के मुकाबले में एक समय 0-2 से पीछे चल रही थीं लेकिन उन्होंने इसके बाद जबरदस्त वापसी करके 3-2 से जीत दर्ज की। पंघाल ने इसके बाद अगले दौर में पोलैंड की रोकसाना मार्ता जेसिना को सिर्फ 1 मिनट और 38 सेकेंड में टेक्निकल एफिसिएंशी के आधार पर हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। इसके बाद अंतिम 8 के मुकाबले में उन्होंने रूस की नतालिया मालीशेवा को 9-6 से हराकर अंतिम 4 में जगह बनाई। भारत की 19 वर्षीय इस रेसलर का डिफेंस पूरे दिन काफी मजबूत दिखा।

Asian Games 2023: भारतीय वॉलीबॉल टीम प्री-क्वाटरफाइनल में पहुँची, दक्षिण कोरिया को 3-2 से दी मात

भारत के अन्य पहलवानों ने किया निराश

भारत की 5 महिला पहलवान और 10 पुरुष पहलवान पहले ही World Wrestling Championship टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं। भारत की अन्य महिला पहलवान मनीषा (62 किलोग्राम वर्ग), प्रियंका (68 किलोग्राम वर्ग) और ज्योति ब्रेवाल (72 किलोग्राम वर्ग) को हार का सामना करना है। अब टूर्नामेंट में इनकी उम्मीदें इन्हें हराने वाले खिलाड़ियों के नतीजे पर निर्भर करेंगी यानी देखना होगा कि रेपचेज में इन्हें मौका मिलता है या नहीं। साथ ही भारत के सभी 10 पुरुष फ्री स्टाइल पहलवान पहले ही टूर्नामेंट से बाहर हो गए थे। वे ओलंपिक कोटा हासिल करने या गैर ओलंपिक वर्गों में पदक जीतने में नाकाम रहे। गौरतलब है कि भारतीय कुश्ती महासंघ को निलंबित किए जाने के कारण भारत के सभी पहलवान यूनाईटेड वर्ल्ड रेसलिंग के प्रतिनिधित्व में चुनौती पेश कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here