BWF World Championships 2023: प्रणय ने विश्व चैंपियनशिप में पदक किया तय, दुनिया के नंबर-1 खिलाड़ी को हराया

0
58
BWF World Championships 2023: Prannoy assured of medal in World Championships, defeats world number-1 player Axelsen

कोपेनहेगन। BWF World Championships 2023: प्रणॉय ने BWF वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में विश्व नंबर एक रैंक डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन को हरा दिया और इसके साथ ही चैंपियनशिप में अपना मेडल पक्का कर लिया। डेनमार्क के कोपेनहेगेन में चल रही वर्ल्ड चैंपियनशिप में हुए क्वार्टर फाइनल में 31 साल के प्रणॉय ने लोकल स्टार और मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन एक्सेलसन को 13-21, 21-15, 21-16 से हराते हुए सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई। प्रणॉय मेंस सिंगल्स में वर्ल्ड चैंपियनशिप का मेडल जीतने वाले पांचवें भारतीय शटलर बन गए हैं। साथ ही 2011 के बाद हर वर्ल्ड चैंपियनशिप में कम से कम एक मेडल जीतने का भारत का सिलसिला जारी है।

World Athletics Championship: नीरज चोपड़ा की फाइनल में रिकॉर्ड तोड़ एंट्री, एक ही थ्रो में रच दिया इतिहास

रोमांचक हुए प्रणय और एक्सेलसन के बीच मुकाबला

BWF World Championships 2023 के पहले गेम में दुनिया के नौवें नंबर के खिलाड़ी प्रणय को लय हासिल करने में समय लगा तब तक स्थानीय स्टार एक्सेलसन 11-5 की बढ़त बना चुके थे। एक्सेलसन ने कोर्ट पर अपनी चपलता से लगातार बढ़त बनाए रखी और पहला गेम आसानी से जीत लिया। दूसरे गेम में भारतीय खिलाड़ी ने रिद़म पा ली। उन्होंने लंबी रैंलियों के बाद अंक बटोरे। उन्होंने डेनमार्क के खिलाड़ी के स्मैशों पर न केवल अच्छा गेम दिखाया, बल्कि नेट पर भी ड्रॉप शॉट खेले। दूसरा गेम 21-15 से जीतकर उन्होंने मुकाबले को निर्णायक गेम की ओर मोड़ दिया। तीसरे गेम में प्रणय का दबदबा दिखाई दिया। उन्होंने मध्यांतर तक 11-6 से बढ़त बना ली थी। उधर, एक्सेलसन पर थकान हावी होती नजर आ रही थी। प्रणय पर काफी दबाव था क्योंकि विक्टर को घरेलू दर्शकों का बड़ा समर्थन मिल रहा था।

World Athletics Championships: फाइनल में पदक से चूके जेस्विन एल्ड्रिन, अब देश को नीरज चोपड़ा से आस

सात्विक और चिराग क्वार्टर फाइनल में हारे

सात्विक साईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की भारतीय युगल जोड़ी BWF World Championships 2023 में दूसरा पदक हासिल करने से चूक गई। विश्व रैंकिंग में दूसरे नंबर की जोड़ी को क्वार्टर फाइनल में डेनमार्क के किम एस्तरुप और आंद्रियास रासमुसीन के हाथों 48 मिनट में 18-12, 19-21 से हार का सामना करना पड़ा। सात्विक और चिराग ने पिछली विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था। इससे पहले भारतीय जोड़ी की डेनमार्क की इस जोड़ी से 2021 में भिड़ंत हुई थी। इस मैच से पहले भारतीय जोड़ी का इस प्रतिद्वंद्वी जोड़ी के खिलाफ 2-5 का जीत-हार का रिकॉर्ड था।

World Cup 2023: वॉर्मअप मैच तय करेंगे महामुकाबले के लिए टीम इंडिया की प्लेइंग XI, जान लीजिए शेड्यूल

पहला गेम हारकर जबरदस्त वापसी

दो बार के विजेता और मौजूदा चैंपियन एक्सेलसन ने पहले गेम में प्रणॉय को 21-13 से हरा दिया था। लेकिन अगले दोनों गेम में प्रणॉय डेनिश सुपरस्टार को कोई मौका नहीं दिया और मैच अपने नाम कर लिया। विक्टर पर प्रणॉय की जीत सिर्फ इसलिए खास नहीं है क्योंकि उन्होंने अपना मेडल पक्का कर लिया है, बल्कि इसलिए भी खास है क्योंकि विक्टर एक्सेलसन इस वक्त वर्ल्ड चैंपियन होने के साथ ही ओलिंपिक चैंपियन भी हैं। साथ ही एक्सेलसन के खिलाफ 10 मैचों में प्रणॉय की ये तीसरी ही जीत है और इस मेडल ने इस जीत को और भी खास बना दिया है। BWF World Championships 2023 सिंगल्स का सेमीफाइनल आज होगा, जहां प्रणॉय का सामना थाईलैंड के कुनलावुत विदितसान से होगा।

WFI: खेलों में राजनीति का परिणाम, भारतीय कुश्ती ने गंवाई तिरंगे की पहचान

वर्ल्ड चैंपियनशिप में प्रणय का पहला मेडल

यह वर्ल्ड चैंपियनशिप में प्रणय का पहला मेडल है। मेंस सिंगल्स में वर्ल्ड चैंपियनशिप मेडल जीतने वाले प्रकाश पदुकोण, साई प्रणीत, किदांबी श्रीकांत और लक्ष्य सेन के बाद 5वें भारतीय बन गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here