World Wrestling Championships: पंघाल ने कब्जाया कांस्य, कटाया पेरिस ओलंपिक का टिकट

0
106
World Wrestling Championships Antim Panghal bags bronze, secures 2024 Paris Olympic quota

बेलग्रेड। World Wrestling Championships में भारत का खाता खुल गया है। भारत की 19 साल की रेसलर अंतिम पंघाल ने महिलाओं के 53 किलोग्राम कैटेगरी में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया है। गुरुवार 21 सितंबर को हुए ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में अंतिम ने 2 बार की यूरोपियन चैंपियन स्वीडन की एम्मा जोना डिनीस को रोमांचक जबरदस्त मुकाबले में 16-6 के अंतर से हराते हुए ब्रॉन्ज मेडल जीता। इस तरह अपनी डेब्यू वर्ल्ड चैंपियनशिप में अंतिम न सिर्फ मेडल लेकर लौटीं, बल्कि उन्होंने पेरिस ओलिंपिक का कोटा भी हासिल कर लिया। वो पेरिस ओलिंपिक का कोटा जीतने वाली भारत की पहली पहलवान हैं।

ICC ODI Ranking: नंबर-1 के लिए कल से भिड़ेंगी विश्व की दो सर्वश्रेष्ठ टीमें, भारत की हार से होंगे बड़े बदलाव

कुश्ती में भारत को पहला कोटा

पहली बार World Wrestling Championships में हिस्सा ले रही 19 साल की पंघाल ने पहले ही राउंड में मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन को हराकर सनसनीखेज शुरुआत की थी। वो बिना किसी परेशानी के सेमीफाइनल तक पहुंची लेकिन वहां उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। इसके बावजूद अंतिम के पास मेडल जीतने का मौका था और अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियन ने निराश नहीं किया। उन्होंने 16-6 के अंतर के आधार पर टेक्निकल सुपीरियॉरिटी से बाउट जीतते हुए मेडल हासिल किया। अंतिम पंघाल ने पिछले महीने ही अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप में लगातार दूसरी बार गोल्ड जीता था। अब सीनियर स्तर पर अपने डेब्यू में वो खिताब तो नहीं जीत पाईं लेकिन पहले प्रयास में ही छाप छोड़ने में सफल रही हैं। पेरिस में अगले साल ओलिंपिक गेम्स होने हैं। यह पेरिस 2024 के लिए कुश्ती में भारत का पहला कोटा भी है।

World Wrestling Championship: सेमीफाइनल में हारी अंतिम पंघाल, अब आज कांस्य के लिए होगा मुकाबला

मैट से कोर्ट तक की लड़ाई

अंतिम की ये सफलता इसलिए भी खास है क्योंकि उन्हें इसके लिए मैट से लेकर कोर्ट तक संघर्ष करना पड़ा था। भारतीय कुश्ती संघ की ओर से जुलाई में ट्रायल के दौरान विनेश फोगाट और बजरंग पूनिया को छूट देकर सीधे एशियन गेम्स में भेजने के फैसले का अंतिम समेत कुछ पहलवानों ने विरोध किया था। इसके लिए कोर्ट तक का दरवाजा खटखटाया गया था। कोर्ट की ओर से तो राहत नहीं मिली थी लेकिन किस्मत ने ही अंतिम का साथ दिया क्योंकि विनेश को चोट के कारण अपना नाम वापस लेना पड़ा। ऐसे में एशियाड समेत World Wrestling Championships के लिए भी अंतिम को ही भारतीय दल में शामिल किया गया और युवा पहलवान ने अपने प्रदर्शन से इस फैसले को सही साबित किया।

Asians Games 2023: भारतीय पुरुष फुटबॉल टीम ने बांग्लादेश को 1-0 से हराया, महिला टीम को चीनी ताइपी ने दी मात

चैंपियनशिप में पदक जीतने वाली भारतीय महिलाएं

अंतिम पंघाल से पहले 8 भारतीय महिला खिलाड़ी World Wrestling Championships में मेडल जीत चुकी हैं। इसमें अल्का तोमर (2006), गीता फोगाट (2012), बबीता फोगाट (2012), पूजा ढांडा (2018), विनेश फोगाट (2019, 2022) और सरिता मोर (2021), अंशू मलिक (रजत) का नाम शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here