भारतीय महिला तीरंदाजों के लिए Olympic कोटा हांसिल करना मुश्किल

0
969
Difficult for Indian women archers to achieve Olympic quota

पूर्व नंबर एक तीरंदाज दीपिका कुमारी ने ऑनलाइन चैट शो में किया खुलासा

नई दिल्ली। दुनिया की पूर्व नंबर एक तीरंदाज दीपिका कुमारी का कहना है कि इस बार भारतीय महिलाओं के लिए Olympic में पूर्ण कोटा हांसिल करना मुश्किल काम है। उन्होंने कहा कि भारतीय महिलाओं के पास टोक्यो Olympic का कोटा प्राप्त करने के लिए सिर्फ एक टूर्नामेंट बचा है और दो स्थानों का कोट हांसिल करना है। ऐसे में यह खासा मुश्किल भरा काम है। आमतौर पर इस समय तक भारतीय तीरंदाज पूर्ण कोटा हांसिल कर लेते हैं लेकिन इस बार कोरोना के कारण स्थितियां विकट हो गईं।

इटली में क्वारंटाइन रहेंगे कोरोना संक्रमित Ronaldo

भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी मुदित दानी के ऑनलाइन चैट शो इन द स्पॉटलाइट पर दीपिका ने कहा कि महिला तीरंदाजों ने कड़ी मेहनत की है और कोविड-19 लॉकडाउन से पहले उन्हें Olympic कोटा हासिल करने का भरोसा था। उन्होंने कहा, जब लॉकडाउन हुआ तो एक महीने में क्वालीफायर होने वाले थे, हमारा अभ्यास काफी अच्छा चल रहा था, लेकिन इसके बाद अचानक हमें पता ही नहीं चला कि क्या करना है।

RCB के खिलाफ बदलेगी पंजाब की हिट ओपनिंग जोड़ी

दो बार की विश्व चैंपियन तीरंदाज ने कहा, फिलहाल महिला वर्ग में हमें सिर्फ एक Olympic कोटा हासिल है और दो अन्य कोटा स्थान हासिल करने के लिए सिर्फ एक क्वालीफायर बचा है। आम तौर पर इस समय तक हम पूर्ण कोटा हासिल कर लेते थे, लेकिन इस बाद स्थिति अलग है। पिछले साल जून में विश्व चैंपियनशिप के लिए टीम कोटा हासिल करने में नाकाम रहने के बाद भारतीय महिला तीरंदाजी टीम भारत को पूर्ण कोटा हासिल करने के लिए पेरिस में अंतिम मौका मिलेगा।

बाॅल ब्वाॅय से मैच विनर तक इस खिलाड़ी का यादगार सफर

पिछले साल बैंकॉक में एशियाई महाद्वीपीय क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीतकर दीपिका टोक्यो Olympic खेलों के लिए क्वालीफाई करने वाली एकमात्र भारतीय महिला तीरंदाज हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here