Chennai को हरा प्वाइंट टेबल में 5वें स्थान पर #RR

0
578
Rajasthan Royals beat chennai by 7 wickets 37th match ipl 13 latest sports news in hindi
Image Credit: Twitter/@rajasthanroyals

जोस बटलर के शानदार 70 रन, कप्तान स्मिथ के साथ 98 रनों की अविजित साझेदारी

Chennai का 126 रनों का लक्ष्य राजस्थान राॅयल्स ने 17.3 ओवर्स में किया हांसिल

नई दिल्ली। जोस बटलर की शानदार 70 रनों की पारी और स्टीव स्मिथ के साथ हुई 98 रनों की साझेदारी की मदद से राजस्थान ने चेन्नई सुपर किंग्स को 7 विकेट से हरा दिया। Chennai के 126 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई एक समय 28 रन पर 3 विकेट गंवा कर संघर्ष कर रही थी। लेकिन इसके बाद जोस बटलर और स्टीव स्मिथ ने 98 रनों की अविजित साझेदारी कर महज 17.3 ओवर में राजस्थान को जीत की दहलीज तक पहुंचा दिया। बटलर 70 रन बनाकर और स्मिथ 26 रन बनाकर नाबाद रहे।

शुरूआती झटकों के बाद एक बार लगने लगा था कि Chennai आईपीएल-13 के इस सबसे छोटे लक्ष्य को भी बचा जाएगी। लेकिन बटलर और स्मिथ ने धीरे-धीरे पिच पर कदम जमाए और राजस्थान की पारी को आगे बढ़ाना शुरू किया। एक बार जमने के बाद उन्होंने Chennai के किसी भी गेंदबाज को कोई मौका नहीं दिया।

2 रन के अंतराल पर गिरे राजस्थान के 3 विकेट

राजस्थान की शुरूआत बेहद खराब रही। Chennai के 125 रनों का पीछा करने वाली राजस्थान ने महज 28 रनों के स्कोर तक अपने तीन सबसे अहम विकेट खो दिए। राजस्थान को बेन स्टोक्स और राॅबिन उथप्पा ने सधी हुई शुरूआत देने की कोशिश की। लेकिन महज 2 रनों के अंतराल पर 3 विकेट गिरने से राजस्थान की हालत पतली हो गई।

राजस्थान को पहला झटका Chennai के तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने दिया। चाहर ने 19 रनों के निजी स्कोर पर बेन स्टोक्स को बोल्ड कर दिया। इस समय राजस्थान के खाते में महज 26 रन ही जुड़े थे। टीम इस झटके से उबरती उससे पहले 28 रनों के स्कोर पर राॅबिन उथप्पा महज 4 रन बनाकर जोश हेजलवुड का शिकार हो गए। उनकी जगह मैदान में उतरे संजू सैमसन तो खाता भी नहीं खोल पाए। 28 रनों के स्कोर पर ही राजस्थान को तीसरा झटका लगा। और संजू सैमसन बिना कोई रन बनाए दीपक चाहर की गेंद पर महेन्द्र सिंह धोनी को कैच थमा बैठे।

गेंदबाजों ने Chennai को 125 रनों पर रोका

धीमी पिच पर स्पिनर्स की शानदार गेंदबाजी की मदद से राजस्थान राॅयल्स ने आईपीएल-13 के 37वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai) को 125 रनों पर रोक लिया। रन बनाने के मामले में चेन्नई की स्थिति और भी खराब हो जाती। लेकिन जडेजा ने आखिरी ओवर्स में तेजी से रन बनाकर Chennai को 125 रनों तक पहुंचाया। कप्तान धोनी और रविंद्र जडेजा सहित Chennai के सभी बल्लेबाज धीमी गेंदबाजी पर रन बनाने के लिए जूझते दिखाई दिए। मैच के दौरान धोनी ने जहां एक तरफ आईपीएल में अपने 4 हजार रनों का आंकड़ा पूरा किया। वहीं आईपीएल में 200 मैच खेलने का रिकाॅर्ड भी अपने नाम किया।

Chennai के खिलाफ आज राजस्थान के गेंदबाजों खासकर राहुल तेवतिया और श्रेयस गोपाल ने शानदार गेंदबाजी की। गोपाल ने अपने 4 ओवर्स में सिर्फ 14 रन दिए और एक विकेट लिया। जबकि तेवतिया ने अपने 4 ओवर्स में 18 रन देकर एक विकेट झटका। इन दोनों की शानदार गेंदबाजी का ही परिणाम था कि 6 से 10 ओवर्स के बीच में तो चेन्नई एक-एक रन के लिए तरस गया। इन पांच ओवर्स में Chennai सिर्फ 15 रन बना पाया और सैम करन के रूप में अपना एक विकेट भी खोया।

पंजाब का स्ट्रगल..लेकिन कप्तान KL Rahul टॉप पर

एक मैच, दो Super Over, Punjab ने दी MI को मात

धोनी-जडेजा के बीच 50 रनों की साझेदारी

56 रनों पर 4 विकेट गंवाने के बाद Chennai टीम संघर्ष कर रही थी। यहीं से टीम को संभालने का काम किया कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और रविंद्र जडेजा ने। दोनों ने मिलकर धीरे-धीरे टीम का स्कोर बढ़ाना शुरू किया। 107 रनों के स्कोर पर धोनी 28 रन बनाकर रन आउट हो गए। लेकिन जडेजा इसके बाद भी क्रीज पर डटे रहे और टीम के खाते में रन जोड़ते रहे।

शुरूआत ही खराब

राजस्थान के खिलाफ आज Chennai की शुरूआत ही खराब रही। डूप्लेसिस सिर्फ 10 रन बनाकर जोफ्रा आर्चर को अपना विकेट दे बैठे। टीम इस झटके से उबर पाती उससे पहले ही चौथे ओवर में ही शेन वाटसन भी सिर्फ 8 रन बनाकर कार्तिक त्यागी का शिकार बन गए। Chennai को तीसरा झटका 53 रन के स्कोर पर लगा। जबकि ओपनर के तौर पर उतरे सैम करन 25 गेंदों पर 22 रन बनाकर श्रेयस गोपाल की गेंद पर जोफ्रा आर्चर को कैच दे बैठे। 3 रन बाद ही 56 के स्कोर पर अंबाती रायडू भी राहुल तेवतिया का शिकार बन गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here