Heath Streak: क्रिकेट जगत में शोक की लहर, जिम्बाब्वे के दिग्गज ऑलराउंडर का कैंसर से निधन

0
85
Heath Streak Legendary Zimbabwe cricketer passed away after fighting a prolonged battle with cancer at the age of 49

हरारे। Heath Streak: क्रिकेट जगत के लिए आज सुबह एक बुरी खबर आई। तकरीबन 12 साल तक इंटरनेशनल क्रिकेट में अपनी गेंद और बल्ले की चमक से धूम मचाने वाले। अपनी कप्तानी से बड़ी से बड़ी टीमों को धूल चटाने वाले। और, आईपीएल में भी गुजरात लायंस व केकेआर जैसी टीमों को कोचिंग देने वाले एक दिग्गज ने महज 49 वर्ष की उम्र में ही दुनिया को अलविदा कह दिया। वो नाम था जिम्बाब्वे के ऑलटाइम स्टार और पूर्व कप्तान हीथ स्ट्रीक का, जिनका लंबे समय तक कैंसर से जंग लडऩे के बाद निधन हो गया। उनके साथी क्रिकेटर रहे हेनरी ओलोंगा ने इस बात की जानकारी सोशल मीडिया के जरिए दी।

Chess World Cup: आज फैसले का दिन, जो जीतेगा दूसरी बाजी; वो बनेगा शतरंज का बादशाह

पूर्व साथी क्रिकेटर ओलोंगा ने दी जानकारी

ओलोंगा ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर लिखते हुए कहा कि, एक बुरी खबर सुनने को मिल रही है कि हीथ स्ट्रीक ने अब यह दुनिया छोड़ दी है। उन्होंने आगे लिखा आरआईपी लीजेंड। साथ ही ओलोंगा ने Heath Streak को जिम्बाब्वे के ऑलटाइम बेस्ट ऑलराउंडर्स में से एक भी बताया। उन्होंने लिखा कि, यह मेरा सौभाग्य था कि आप के साथ खेलने का मौका मिला। उन्होंने क्रिकेट के लहजे में अपने पूर्व साथी को अंतिम विदाई दी और लिखा, अब दोबारा दूसरे छोर पर मिलेंगे जब मेरा बॉलिंग स्पेल खत्म होगा।

IND vs IRE: तीसरा टी20 आज, कप्तान बुमराह करेंगे बदलाव; ऐसी हो सकती है प्लेइंग XI

शानदार रहा स्ट्रीक का क्रिकेट करियर

स्ट्रीक ने 1993 में पाकिस्तान के खिलाफ कराची टेस्ट में डेब्यू किया था। यहां उन्हें एक भी विकेट नहीं मिला था। उसके बाद अपने दूसरे टेस्ट में रावलपिंडी में Heath Streak ने 8 विकेट लेकर क्रिकेट जगत में दस्तक दे दी थी। आज उनका नाम जिम्बाब्वे के महान क्रिकेटरों में गिना जाता है। साथ ही 2000 से 2004 तक जिस दौरान वह कप्तान थे उस वक्त जिम्बाब्वे की टीम एक खतरनाक टीम बन गई थी जो किसी को भी हराने का दमखम रखती थी। उन्होंने अपने करियर में 65 टेस्ट और 189 वनडे इंटरनेशनल मुकाबले खेले। उनको नाम 216 टेस्ट और 239 वनडे विकेट दर्ज थे। वह एक शानदार ऑलराउंडर थे और यही कारण है कि टेस्ट में 1990 और वनडे में 2943 रन भी उन्होंने बनाए। उनकी एकमात्र इंटरनेशनल सेंचुरी वेस्टइंडीज के खिलाफ हरारे टेस्ट में आई थी।

PAK vs AFG 1st ODI: पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को 142 रन से रौंदा, हारिस रऊफ़ ने झटके 5 विकेट

2005 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया था संन्यास

Heath Streak ने 2005 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। इसके बाद उन्होंने काउंटी का रुख किया जैसा ज्यादातर जिम्बाब्वे के स्टार क्रिकेटर पैसों के लिए करते हैं। उन्होंने वार्विकशायर के साथ दो साल का कॉन्ट्रैक्ट साइन किया। पर 2006 में उनका यह कॉन्ट्रैक्ट उनके खराब फॉर्म के कारण खत्म कर दिया गया। फिर 2007 में वह इंडियन क्रिकेट लीग आईसीएल से जुड़े। इसके बाद उनका इंटरनेशनल क्रिकेटर करियर मानो थम गया था। उन्होंने फिर कोचिंग का रुख किया। जिम्बाब्वे, स्कॉटलैंड और बांग्लादेश जैसी इंटरनेशनल टीमों के साथ वह रहे। साथ ही आईपीएल में भी उन्होंने गुजरात लायंस और कोलकाता नाइट राइडर्स को प्रशिक्षित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here