फिटनेस के लिए ओलंपिक मेडलिस्ट बना फ़ूड डिलीवरी ब्वॉय

0
369

नई दिल्ली। कहते हैं आम के आम, गुठलियों के दाम। जापान के ओलम्पियन तलवारबाज रियो मियाके इन दिनों कुछ इसी अंदाज में काम कर रहे हैं। कोरोना वायरस की वजह से पूरी दुनिया में लॉकडाउन चल रहा है। सामान्य जनजीवन अस्तव्यस्त है। इतना ही नहीं कोरोना वायरस की वजह से जापान ओलंपिक 2020 टल गया है, ऐसे में जापान के तलवारबाज (Fencer) रियो मियाके लॉकडाउन में फूड डिलीवरी ब्वॉय बन गए हैं। इस तरीके से मियाके ना सिर्फ अपनी आर्थिक तंगी को दूर कर पा रहे हैं बल्कि फिटनेस पर भी पूरा ध्यान दे पा रहे हैं।

उन्होंने लंदन ओलंपिक में सिल्वर मेडल और 2014 के एशियाड गोल्ड मेडल जीता था। टोक्यो ओलंपिक की तैयारी कर रहे खिलाड़ियों के पास भी प्रैक्टिस करने की बहुत सुविधाएं नहीं हैं, क्योंकि लॉकडाउन के चलते स्टेडियम और प्रैक्टिस ग्राउंड्स बंद हैं। ऐसे हालात में रियो मियाके ने तलवार की जगह साइकिल और बैकपैक उठाया और घर-घर जाकर फूड डिलीवरी करने लगे। इससे उनकी कमाई भी हो जाती है और साथ-साथ एक्सरसाइज भी। 29 साल के रियो मियाके ने लंदन ओलंपिक में टीम फोइल (तलवार) इवेंट में सिल्वर जीता था। इसके अलावा 2014 में हुए एशियाड में गोल्ड मेडल जीता था। रियो मियाके ने कहा कि मैंने फूड डिलीवरी का काम इसलिए शुरू किया ताकि पैसे जुटा सकूं। इससे भविष्य में होने वाले टूर्नामेंट में मदद मिलेगी। दूसरा फिजिकल फिटनेस बनी रहेगी। मियाके ने बताया कि अब मैं एक दिन में करीब 2 हजार येन यानी करीब 1400 रुपये कमा लेता हूं। इसके अलावा कमाई के अन्य तरीके भी खोज रहा हूं। मियाके हर दिन में करीब 20-25 किलोमीटर का पूरा रन करते हैं। उनका कहना है कि इससे शरीर का वॉर्म अप होता रहता है और फिटनेस भी बनी रहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here