क्रिकेट में Corona Guideline का असर, इंग्लैंड टीम आई चपेट में

0
437

जोफ्रा आर्चर और डाॅम सिबली ने तोड़े नियम, करनी पड़ी कार्रवाई

 

नई दिल्ली। कोरोना के असर के बीच आईसीसी ने कड़े नियमों के साथ क्रिकेट इवेंट्स शुरू करने की इजाजत दी थी। लेकिन अब क्रिकेट में corona guideline का असर दिखने लगा है। और इंग्लैंड की टीम इसकी चपेट में आने वाली पहली टीम बन गई है। टीम के दो खिलाड़ियों को गाइडलाइन के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। जिसके बाद एक पर एक मैच का प्रतिबंध लगा दिया गया, वहीं दूसरे को चेतावनी देकर छोड़ा गया है।

दरअसल, क्रिकेट में corona guideline के अनुसार नए नियम तय किए गए हैं। जिसके तहत गेंदबाजों के गेंद को लार से चमकाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का भी कड़ाई से पालन करवाया जा रहा है। जिसके तहत इंग्लैंड-वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज के दौरान इंग्लैंड बोर्ड ने मैच समाप्ति के बाद खिलाड़ियों के घर लौटने पर रोक लगा रखी थी। लेकिन इन दोनों ही नियमों का उल्लंघन इंग्लिश खिलाड़ियों द्वारा किया गया।

 

जोफ्रा आर्चर घर पहुंचे, एक मैच का बैन

corona guideline के बायो सिक्योर नियम के कारण पाकिस्तान सीरीज तक इंग्लैंड के खिलाड़ियों को घर जाने की इजाजत नहीं थी। लेकिन पिछले दिनों तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर वेस्ट इंडीज के खिलाफ पहला टेस्ट खत्म होने के बाद घर चले गए थे। इसके बाद इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने उन्हें दूसरे टेस्ट से बाहर करते हुए उनपर 15 हजार पाउंड (करीब 14 लाख रुपए) का जुर्माना भी लगाया था। हालांकि इस मामले से सबक लेते हुए बोर्ड ने खिलाड़ियों को घर जाने की छूट दे दी है। अब बोर्ड की ओर से खिलाड़ियों को कहा गया है कि वे सिर्फ घर जा सकेंगे। उनके रेस्टोरेंट, पब या पब्लिक प्लेस पर जाने पर बैन जारी रहेगा।

सिबली ने लार से चमकाई गेंद, माफी मांगी

दरअसल, मैनचेस्टर टेस्ट में वेस्टइंडीज की बैटिंग के दौरान इंग्लैंड के गेंदबाज डॉम सिबली ने गेंद चमकाने के लिए थूक का इस्तेमाल किया। ऐसा करने के तुरंत बाद उन्होंने इसकी जानकारी अंपायर को दी। और कहा कि यह उनसे गलती से हो गया। इसके बाद अंपायर ने गेंद को केमिकल से डिसइंफेक्ट किया। हालांकि सिबली को इसके लिए चेतावनी दी गई। क्रिकेट में corona guideline के तहत बनाए गए नए नियमों के तहत गेंदबाजी टीम को ऐसा करने पर दो बार चेतावनी दी जाएगी। अगर इसके बाद भी गेंदबाज थूक का इस्तेमाल करता है, तो सजा के तौर पर गेंदबाजी टीम पर 5 रन की पेनल्टी लगाई जाएगी। यह रन बल्लेबाजी कर रही टीम के स्कोर में जुड़ जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here