Women’s Asian Champions Trophy: भारत ने किया एशिया फतह, जापान को 4-0 से रौंदकर जीता गोल्ड

0
105
Women’s Asian Champions Trophy Indian Women’s Hockey team won gold, beating defending champions Japan 4-0 in the final

रांची। Women’s Asian Champions Trophy: भारतीय महिला हॉकी टीम ने अपना विजयरथ जारी रखते हुए झारखंड महिला एशियन चैंपियंस ट्रॉफी रांची-2023 का फाइनल मुकाबला जीतकर दूसरी बार इस प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया। मेजबान टीम ने खिताबी मुकाबले में जापान को 4-0 से हराया। स्वर्ण पदक मुकाबले में भारतीय टीम ने हॉफ टाइम की समाप्ति तक 1-0 की बढ़त बना ली थी। भारत के लिए यह गोल संगीता कुमारी ने 17वें मिनट में मैदानी गोल के रूप में किया।

पूरे मैच में भारत ने बनाए रखा दबदबा

भारतीय टीम ने दूसरे हाफ में भी अपना तूफानी प्रदर्शन जारी रखा और तीन गोल और दाग दिए। टीम के दूसरा गोल नेहा ने 46वें, तीसरा गोल लालरेमसियामी ने 57वें और चौथा तथा अंतिम गोल वंदना कटारिया ने 60वें मिनट में किया। भारत की Women’s Asian Champions Trophy में सात मैचों में यह लगातार सातवीं जीत थी। भारतीय टीम के लिए संगीत कुमारी ने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा छह गोल किए जबकि चीन की जियाकी झोंग सात गोल के साथ टॉप स्कोरर रहीं।

Virat Kohli ने जन्मदिन पर जड़ा 49वां शतक, क्या वर्ल्ड कप में पूरा करेंगे अर्धशतक!

कोच ने की खिलाडिय़ों की तारीफ

भारतीय महिला हॉकी टीम की कोच जेनेके शॉपमैन ने कहा कि हमें फाइनल में 4-0 से जीत की अपेक्षा नहीं थी। हम बहुत खुश हैं। मैच देखने आए प्रशंसकों ने टीम का बहुत हौसला बढ़ाया। हमारी बहुत मदद की। सभी उत्साहित थे। भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान सविता पुनिया ने बताया कि बहुत अच्छा लग रहा है। बता दें, भारत ने इससे पहले सिंगापुर में 2016 में अपना पहला Women’s Asian Champions Trophy का खिताब जीता था। वहीं, जापान 2013 और 2021 का विजेता है।

World Cup 2023: भारत ने उतारी साउथ अफ्रीका की खुमारी, 243 रनों से रौंदा

चीन को करना पड़ा कांस्य पदक से संतोष

स्वर्ण पदक जीतने के बाद भारतीय टीम के प्रत्येक खिलाडिय़ों को तीन-तीन लाख रुपये और प्रत्येक सपोर्ट स्टाफ को 1.5 लाख रुपये की पुरस्कार राशि मिलेगी। इससे पहले Women’s Asian Champions Trophy के कांस्य पदक मुकाबले में चीन के लिए यी चेन ने तीसरे और तियांतियन लोउ ने 47वें मिनट में गोल किए। वहीं, कोरिया के लिए एकमात्र गोल सुजिन एन ने 38वें मिनट में दागा। कोरिया को चौथे, मलेशिया को पांचवें और थाईलैंड को छठे स्थान से संतोष करना पड़ा। राउंड रॉबिन लीग चरण के आधार पर खेले गए इस टूर्नामेंट में कुल छह टीमें भाग ले रही थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here