तैयार होने लगा UAE में आईपीएल का बाजार

0
1132

मैदान में दर्शकों के प्रवेश पर अभी फैसला नहीं,

UAE के दुबई, अबु धाबी और शारजाह में होंगे मैच,

नई दिल्ली। आईपीएल का बाजार सजने लगा है। आईपीएल चेयरमैन ब्रजेश पटेल ने औपचारिक रूप से इस बात का ऐलान कर दिया कि 19 सितंबर से 8 नवंबर के बीच आईपीएल होगी। और इस बार का आयोजन UAE में होगा। हालांकि कमाई में भी गिरावट आना तय है। और दर्शकों को प्रवेश मिलेगा या नहीं, यह भी अभी तय नहीं है।

बावजूद इसके आईपीएल की तारीखों का ऐलान होना, क्रिकेट फैंस के लिए तोहफे से कम नहीं है। UAE में भी पिछले लगभग 8 महीनों से क्रिकेट नहीं खेला गया है। जबकि वहां भी क्रिकेट फैंस की कोई कमी नहीं है। यही कारण है कि अब सभी को इस बात का इंतजार है कि बीसीसीआई एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड को औपचारिक लैटर भेजे। ताकि अधिकृत रूप से आईपीएल की तैयारियां शुरू हो सकेें।


सूत्रों का कहना है कि UAE में दुबई, अबु धाबी और शारजाह में आईपीएल के मुकाबले खेले जाएंगे। ये वही शारजाह का मैदान होगा, जहां कभी भारत-पाकिस्तान के मुकाबले देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ती थी। लेकिन जब से भारत ने पाकिस्तान के साथ क्रिकेट खेलना बंद किया है, तब से कभी-कभार ही शारजाह ग्राउंड पुराने दौर में लौटता है।

बीसीसीआई सूत्रों का कहना है कि UAE में कोरोना का कहर दूसरे देशों की तुलना में काफी कम है। एक्टिव केस भी नाममात्र के ही हैं। यही कारण है कि यहां खिलाड़ियों को क्वारैंटाइन पीरियड की भी छूट मिल सकती है। ऐसे में लीग के लिए पहुंचने वाली टीमों को ट्रेनिंग में आसानी होगी।

पढ़ें: जल्दी ही दिखेगा Pro Volleyball League का रोमांच

कमाई पर कोरोना का असर

यह देखना रोचक होगा कि क्या कोरोना से तबाह हुई दुनिया की अर्थव्यवस्था का असर आईपीएल की कमाई पर भी होगा। मार्केट विशेषज्ञों का दावा है कि आईपीएल का आकर्षण ऐसा है कि कंपनियां खिंची चली आती हैं लेकिन इस बार पैकेज कम होगा। यह तय है। ऐसे में आईपीएल की कमाई में गिरावट आ सकती है। हाल ही में नाइकी ने इसी वजह से बीसीसीआई से अपना करार रद्द कर दिया था।

दुबई में मैरियट बनेगी मुंबई इंडियंस का ठिकाना

मुंबई इंडियंस का ठिकाना UAE के दुबई में मैरियट होटल बनेगी। फ्रेंचाइजी ने इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी तरह अन्य फ्रैंचाइजी भी अपनी व्यवस्थाओं को लेकर सक्रिय हो गई हैं। कोशिश इस बात की है कि पूरी तरह सेटअप तैयारकर खिलाड़ियों को वहां ट्रेनिंग का पर्याप्त समय दिया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here