खिलाड़ियों को ही चुकाने होंगे कोरोना टेस्ट के पैसे: PCB

0
569
PCB asks Players will have to pay Corona test fees
Image Credit: File Photo/PCB

कंगाली की हालत में पहुंचे पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) का फरमान

डोमेस्टिक क्रिकेट के लिए भी संसाधान नहीं जुटा पा रहा बोर्ड

नई दिल्ली। pakistan cricket board (PCB) कंगाली की हालत में पहुंच गया है। हालात इतने खराब हो चुके हैं कि खिलाड़ियों और अधिकारियों के कोरोनो टेस्ट के पैसे भी उनसे ही मांगे जा रहे हैं। घरेलू टूर्नामेंट से पहले Corona टेस्ट करवाने के लिए पीसीबी अपने खर्च पर संसाधन भी नहीं जुटा पा रहा है।

दरअसल, कोरोना के कारण पाकिस्तान में होने वाले एशिया कप जैसे क्रिकेट टूर्नामेंट टालने पड़े हैं। जिसके कारण PCB को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। इसके अलावा प्रायोजकों ने भी मुंह मोड़ लिया है। जुलाई में इंग्लैंड दौरे के लिए भी पीसीबी प्रायोजक नहीं जुटा पा रहा था। यह हालत लगातार बदतर होती जा रही है।

अब पाकिस्तान में 30 सितंबर से डोमेस्टिक क्रिकेट शुरू किया जा रहा है। इसके तहत रावलपिंडी और मुल्तान में राष्ट्रीय टी20 चैंपियनशिप आयोजित की जाएगी। Corona गाइडलाइन के अनुसार किसी भी टूर्नामेंट से पहले खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट अनिवार्य है। लेकिन पीसीबी ने साफ कह दिया है कि कोरोना टेस्ट पर आने वाला खर्च खुद खिलाड़ियों और अधिकारियों को ही उठाना पड़ेगा।

फंड की भारी कमी, नौकरियों में कटौती

PCB का कहना है कि खिलाड़ियों और अधिकारियों के दो कोरोना टेस्ट होने हैं। और बोर्ड इनमें से सिर्फ एक ही टेस्ट का खर्चा उठा सकता है। इससे ज्यादा के लिए उसके पास फंड नहीं है। इतना ही नहीं PCB ने खर्च में कटौती करने के लिए कर्मचारियों को नौकरी से निकालना शुरू कर दिया है। पहले दौर में उन कर्मचारियों को हटाया जा रहा है जो या तो कान्ट्रैक्ट पर लगे हुए हैं। अथवा जिनका सीधे तौर पर बोर्ड के काम-काज से कोई संबंध नहीं है।

भारत से दुश्मनी पड़ रही PCB पर भारी

दरअसल, पीसीबी को सबसे ज्यादा फायदा भारत-पाकिस्तान क्रिकेट सीरीज से ही होता था। एक अनुमान के मुताबिक पिछले लंबे समय से भारत-पाकिस्तान सीरीज नहीं होने से पीसीबी को 600 करोड़ रूपए से अधिक का नुकसान हो चुका है। यही कारण है कि पाकिस्तान सरकार और pakistan cricket board समय-समय पर आईसीसी से मांग करता रहा है कि वह भारत को सीरीज के लिए तैयार करे। लेकिन भारत सरकार ने साफ कर दिया है कि सीमा पर तनाव रहेगा तो दोनों देशों के बीच क्रिकेट नहीं होगा।

7 साल से नहीं हुई भारत-पाकिस्तान सीरीज

भारत और पाकिस्तान के बीच पिछली बार दिसंबर 2012 में 3 वनडे की द्विपक्षीय सीरीज खेली गई थी। पिछली सीरीज में भारत को अपने ही घर में 1-2 से हार मिली थी। यदि मैच की बात करें तो दोनों टीमों के बीच पिछले साल ही वनडे वर्ल्ड कप में मुकाबला हुआ था। इस मैच में भारतीय टीम ने हर बार की तरह वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ जीत हासिल की थी।

2009 के बाद पाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट बंद

2009 में पाकिस्तान दौरे पर श्रीलंकाई खिलाड़ियों की बस पर आतंकी हमला हुआ था। इसके बाद से पाकिस्तान में आतंकी डर के कारण क्रिकेट बंद है। घर में इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं होने से भी PCB 11 साल से बड़ा आर्थिक नुकसान झेलता आ रहा है। हालांकि, 10 साल बाद 2019 में श्रीलंका टीम ने पाकिस्तान दौरे पर 2 टेस्ट की सीरीज खेली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here