तो इस वजह से मिली थी कोलकाता टेस्ट में भारत को जीत

0
231

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2001 में कोलकाता के इडेन गार्डन्स में मिली जीत ऐतिहासिक थी। भारत ने फॉलोऑन मिलने के बाद भी जीत हासिल कर कंगारू टीम का घमंड चूर किया था। इस मैच में राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण की साझेदारी ने मैच पलट दिया था। दोनों ने 331 रन की साझेदारी करते हुए इतिहास रच दिया था। इस मैच की यादों को पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड पर ताजा किया। उन्होंने कहा कि उस दिन का माहौल कुछ ऐसा था जिसने हमें जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। द्रविड़ का कहना था कि उस दिन वहां मौजूद फैंस ने जीत हासिल करने में मदद की।

“उस दिन चाय के बाद जब हम विकेट लेने की कोशिश कर रहे थे। हरभजन सिंह गेंदबाजी कर रहे थे और विकेट गिर रहे थे। भीड़ से जो समर्थन मिल रहा था वो कमाल का था। ईडेन गार्डन्स की भीड़ ने हमें उस 2001 के कोलकाता टेस्ट में जीतने में मदद की। वो समर्थन, प्रोत्साहन और हर एक गेंद पर चीयर। आज भी मुझे वो याद है और अभी भी उसको महसूस कर सकता हूं।”
फॉलोऑन खेलने उतरी भारतीय टीम के लिए दूसरी पारी में राहुल और वीवीएस ने 5वें विकेट के लिए 331 रन की साझेदारी निभाई थी। भारत पहली पारी में महज 171 रन पर सिमटने के बाद 7 विकेट पर 657 रन बनाकर पारी घोषित करने में कामयाब हुआ। ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 384 रन बनाने थे और चाय तक उनका स्कोर 3 विकेट पर 161 रन था। अगले 7 विकेट उनके 46 रन बनाते बनाते गिर गए थे।

द्रविड़ ने इसे करियर का सबसे यादगार पल बताते हुए कहा कि यह वो समय था जब भीड़ वाकई में भारतीय टीम के पीछे खड़ी होती थी। “मैं अपने करियर के बारे में बहुत सारी चीजें हैं जिनको याद कर सकता हूं लेकिन वो एक मौका चाय के बाद का था। वो माहौल और वो जोश जो मैदान के चारो तरफ था।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here