Cricket World Cup 2023 से पहले संकट में पीसीबी, प्लेयर्स को 4 महीने से सैलरी नहीं, अब दी धमकी

0
44
Pakistan Cricket Board announces new central contract list of players; Babar, Rizwan and Shaheen in A category

नई दिल्ली। Cricket World Cup 2023 की शुरूआत से चंद दिन पहले ही पाकिस्तान क्रिकेट में बवाल खड़ा हो गया है। 1992 की वर्ल्ड चैंपियन इस टीम के खिलाड़ियों और बोर्ड के बीच सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट को लेकर विवाद गंभीर स्थिति में पहुंच गया है। खिलाड़ियों को 4 महीने से सैलरी नहीं दी गई है। ऐसे में अब प्लेयर्स ने वर्ल्ड कप को लेकर एक नई चेतावनी दे दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्लेयर्स ने पीसीबी को साफ कह दिया है कि यदि अनुबंध विवाद सुलझाकर सैलरी जारी नहीं की गई तो Cricket World Cup 2023 के भी दौरान वो टीम स्पॉन्सर का लोगो नहीं पहनेंगे। इतना ही नहीं वर्ल्ड कप के किसी प्रमोशनल इवेंट में हिस्सा भी नहीं लेंगे। सूत्रों का कहना है कि पाक प्लेयर्स पिछले महीने एशिया कप खेलने के लिए भी तैयार नहीं थे। हालांकि आपसी समझाइश के बाद उस दौरान तो मामले को टाल दिया गया लेकिन अब प्लेयर्स आर-पार के मूड में हैं।

Cricket World Cup 2023: 27 सितंबर को भारत आएगी पाकिस्तान क्रिकेट टीम, हैदराबाद में खेलेगी वॉर्म-अप मैच

क्या है विवाद का कारण

दरअसल, दूसरे क्रिकेट बोर्ड्स की तरह ही पाकिस्तान में भी प्लेयर्स को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट प्रदान किया जाता है। जिसमें खिलाड़ियों को प्रदर्शन के आधार पर अलग-अलग कैटेगिरी में शामिल किया जाता है। ए कैटेगिरीज में टॉप प्लेयर्स रखे जाते हैं। मसलन इस वक्त कप्तान बाबर आजम, शाहीन शाह आफरीदी और मोहम्मद रिजवान ए कैटेगरी के प्लेयर हैं। ए कैटेगिरी के प्लेयर्स को प्रति माह 45 लाख पाकिस्तानी रुपए बतौर सैलरी दिए जाते हैं। प्लेयर्स को इस फीस पर कोई दिक्कत नहीं है, परेशानी है उस पर लगने वाले भारीभरकम टैक्स को लेकर। टैक्स कटने के बाद खिलाड़ियों को प्रति माह 27 से 28 लाख रुपए ही मिल पाते हैं।

IND vs AUS 3rd ODI: राजकोट में नहीं खेलेंगे Axar Patel, शुभमन और शार्दुल को दिया आराम

5 महीने से चल रहा विवाद

यह विवाद पांच महीने पहले शुरू हुआ था और तब से अब तक दो PCB चीफ (पहले नजम सेठी और अब जका अशरफ) बोर्ड की कमान संभाल चुके हैं, लेकिन विवाद का हल नहीं निकाला जा सका है। एक और दिक्कत की बात यह है कि Cricket World Cup 2023 खत्म होने से पहले ही जका अशरफ भी विदाई ले चुके होंगे और फिर कोई नया चीफ ओहदा संभालेगा। प्लेयर्स को लगता है कि अगर यह मामला अभी नहीं सुलझा तो फिर बहुत लंबा खिंचेगा।

Asian Games 2023: हॉकी में भारत का धमाका, सिंगापुर को 16-1 से रौंदा

प्लेयर्स की नई डिमांड

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक- कई पाकिस्तानी प्लेयर्स Asia Cup 2023 में सिर्फ इस शर्त पर खेलने गए थे कि वर्ल्ड कप से पहले इस मामले को सुलझा लिया जाएगा। हालांकि, ये भी नहीं हो सका। ऐसे में अब प्लेयर्स भी भड़क गए हैं। प्लेयर्स ने अब नई शर्त रख दी है। उनका कहना है कि ICC खेल की बेहतरी के लिए हर देश से जो रेवेन्यू शेयर करता है, उसमें से भी प्लेयर्स को हिस्सा दिया जाए। जाहिर है पीसीबी इसके लिए तैयार नहीं है। यही कारण है कि विवाद का निपटार नहीं हो रहा है। प्लेयर्स ने साफ बता दिया है कि उनकी मांगें जल्द से जल्द पूरी होनी चाहिए। अगर ऐसा नहीं हुआ तो वो न तो टीम स्पॉन्सर का लोगो किट पर लगाएंगे और न Cricket World Cup 2023 के किसी प्रमोशनल इवेंट में शिरकत करेंगे।

बोर्ड-प्लेयर्स के बीच मध्यस्थता करेंगे इंजमाम

सूत्रों का कहना है कि अब पीसीबी चीफ जका अशरफ ने मामला सुलझाने के लिए चीफ सिलेक्टर इंजमाम उल हक से मदद मांगी है। सोमवार को ही इंजमाम और पीसीबी चीफ के बीच लंबी मुलाकात भी हुई। हालांकि, इस बारे में पीसीबी और इंजमाम ने कोई औपचारिक बयान जारी नहीं किया है। प्लेयर्स की नाराजगी इस बात से और बढ़ गई है कि पीसीबी तो उन्हें चार महीने से पैसा नहीं दे रहा है और प्लेयर्स दुनियाभर में चल रही क्रिकेट लीग्स में खेलकर जो कमाई कर रहे हैं, पीसीबी उसमें भी अड़ंगे लगा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here